Shayari ki Dayri,शायरी की डायरी - Hindi-Shayari-Fy

Shayari ki Dayri,शायरी की डायरी - Hindi-Shayari-Fy 




Sayri ki Dayri SmS
मोहब्बत️ का रुतबा तुम क्या जानो हमदम..!! अगर तुम्हारे आवाज़ में दर्द है, तो मेरी आँखों में भी इश्क़ है.

यूँ हर पल हमें सताया️ न कीजिये, यूँ हमारे दिल को तड़पाया न कीजिये, क्या पता कल हम हों न हों इस जहॉ में, यूँ नजरें हमसे आप चुराया न कीजिये..


जब आती है तेरी याद, तेरी 👩‍🦰फोटो देख लेता हु करके स्क्रीन जुम तेरा माथा चुम लेता हुं आई मिस यु सवीटु
Shayri ki Dayri Image in Hindi

Shayari ki Dayri,शायरी की डायरी, - Hindi-Shayari-Fy
Shayri ki Dayri Love
किसी को प्यार इतना देना की हद न हो
पर ऐतबार भी इतना रखना की शक न हो
वफ़ा इतनी करना की बेवफाई न हो
और दुआ बस इतनी करना की जुदाई न हो


ज़िन्दगी में एक हसीं गलती कर बैठे
हम नादानी में प्यार कर बैठे
दिल अपने खुद ठुकर मार बैठे
एक बेवफा से हम मरहम की उम्मीद लगा बैठे


Shayri ki Dayri 2020
बेवफाई पहले मिलती थी सिर्फ किताबों में
अब तो मोहब्बत के नाम से भी पहचानी जाती है


ज़रा सी ज़िंदगी है, अरमान बहुत हैं
हमदर्द नहीं कोई, इंसान बहुत हैं
दिल के दर्द सुनाएं तो किसको
जो दिल के करीब है, वो अनजान बहुत हैं



शायरी की डायरी
कुछ मतलब के लिए ढूँढते हैं मुझको,
बिन मतलब जो आए तो क्या बात है,
कत्ल कर के तो सब ले जाएँगे दिल मेरा,
कोई बातों से ले जाए तो क्या बात है |

बिन बात के ही रूठने की आदत है;
किसी अपने का साथ पाने की चाहत है;
आप खुश रहें, मेरा क्या है;
मैं तो आइना हूँ, मुझे तो टूटने की आदत है।

डायरी डाउनलोड
तकदीर के लिखे पर कभी सिकवा ना किया कर
तू इतना अकलमंद नहीं जो खुदा के इरादे समझ सके

जिनके जाने पर परिवार को दुःख कम और गर्व ज्यादा होता है,
बस उनकी ही वजह से पूरी हिदुस्तान चैनसे सोता है |

Sad Sayri ki dayri
तोड़ कर जोड़ लो चाहे हर चीज़ दुनिया की
सब कुछ कबीले-ए-मरम्मत है एतबार के सिवा

जिसे तैरना सिखाओ, वही डुबाने को तैयार रहता हैं.
खुदगर्ज की बस्ती में, एहसान भी एक गुनाह हैं |

Shayari Ki Dayri
लम्हा लम्हा सांसें ख़तम हो रही हैं,
ज़िंदगी मौत के पहलू में सो रही है,
उस बेवफा से ना पूछो मेरी मौत की वजह,
वो तो ज़माने को दिखाने के लिए रो रही है |